No icon

बच्चों के साथ सोती इस मां की लोग कर रहे हैं बुराई, आखिर क्या है इसकी वजह, आप भी जानिए

बच्चों के साथ सोती इस मां की लोग कर रहे हैं बुराई, आखिर क्या है इसकी वजह, आप भी जानिए

 

 

 

 

यह तस्वीर है ओक्लाहामा सिटी (अमेरिका) की रहने वाली अलोरा ब्रिंक्ली की। इसमें वे अपनी बच्ची और दो साल के बेटे के साथ साथ नजर आ रही हैं। इसे उनके पति डेविड ब्रिंक्ली ने खींचा और सोशल साइट पर पोस्ट कर दिया। इसके पीछे डेविड का इरादा मातृत्व की खूबसूरती दिखाना था। अप्रैल की पोस्ट में वे इस फोटो के जरिए दिखाना चाहते थे थककर चूर होने के बाद सोई मां नींद में भी अपने बच्चों की परवाह के लिए जागरूक है। लेकिन हुआ उल्टा। इस फोटो ने सोशल मीडिया पर बहुत कड़वाहट भरी बहस छेड़ दी।
बता दें कि हमारे देश में यह कल्पना भी नहीं की जा सकती कि छोटा-सा बच्चा अपनी मां से अलग सोएगा। लेकिन वेस्टर्न कंट्रीज में को-स्लीपिंग को गलत माना जाता है और बच्चे के लिए खतरनाक भी। अमेरिका, कनाडा, नॉर्वे आदि देशों में स्वास्थ्य विभाग पैरेंट्स को सलाह देता है कि छोटे बच्चों को भी अपने साथ न सुलाएं, क्योंकि इससे सडेन इन्फैंट डेथ सिंड्रोम का खतरा बढ़ जाता है। इससे बच्चे की मौत तक हो सकती है। माना जाता है कि सोते में माता-पिता के किसी अंग या शरीर के नीचे दबकर बच्चे का दम घुट सकता है।

 

इसे देखते हुए अलोरा और उनके बच्चों की फोटो पर सोशल मीडिया यूजर्स ने आलोचनाओं की झड़ी लगा दी। सिंथिया मर्फी ने फेसबुक पर लिखा कि बच्चों को अकेले, अपने पालने में पीठ के बल सोना चाहिए। सेफ स्लीप की एबीसीडी याद रखो।
कैथी जोंस ने लिखा कि एक प्यारी और खूबसूरत तस्वीर। बहरहाल, प्लीज छोटे बच्चों को सोते समय अपने बिस्तर से दूर रखें। यह सुरक्षित नहीं है। दूसरी तरफ, सोशल मीडिया पर डेविड और अलोरा का समर्थन करने वाले लोग भी थे। मिसाल के लिए, मेल क्नीसली ने लिखा कि हमारे 5 बच्चे हैं और हम उन्हें अपने साथ ही सुलाते हैं।

Comment